मदरसे के बाद अब योगी सरकार वक्फ संपत्तियों का कराएगी सर्वे, भดके ओवैसी

สำนักข่าวเนชั่น | แก้ไขโดย : อิฟเตคาร์ อาเหม็ด | อัพเดทเมื่อ: 21 ก.ย. 2565, 07:10:17 น.

โอไวซี

मदरसे के बाद अब योगी सरकार वक्फ संपत्तियों का कराएगी सर्वे, भड़के ओवैस (เครดิตภาพ: ไฟล์รูปภาพ)

ภาษาไทย:

निजीफंड से चलने वाले मदरसों के बाद अब उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने वक्फ संपत्तियों के की योगी सरकार ने वक्फ संपतियों के का की योगी सरकार ने वक्फ संपत्तियों के का की योगी सरकार ने वक्फ संपत्तियों के की कोगी सरकार ने वक्फ संपतियों के कार्वाऐन सरकार के इस ऐलान के साथ ही इस पर सियासत तेज हो गई เฮีย. योगी सरकार के इस फैसले के बाद AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने सरकार की मंशा पर सवाल उठाए हैं. ตั้งเป้าหมาย ภาษาไทย गौरतलब है कि इसे पहले योगी सरकार ने मदरसों के सर्वे का ऐलान किया था. สมัครสมาชิก इसे लेकर भी सरकार की मंशा पर सवाल उठाए गए थे और सिर्फ मुस्लिमों से जुड़े शिक्षण संस्थाओं का ही सर्वे कराने पर विपक्षी पार्टियों ने सरकार से आरएसएस की ओर से संचालित सरस्वती विद्या मंदिर, निजी स्कूलों और दूसरे शिक्षण संस्थाओं का भी सर्वे कराने की मांग की จิ. अब एकतरफा वक्त की संपत्तियों के सर्वे पर एक बार फिर योगी सरकार कटघरे में है.

असदुद्दीन ओवैसी ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि आप (यूपी सरकार) केवलं वक्फ संपतियों का सर्वेरक्षण? अगर आप निष्पक्ष है तो हिंदू बं दोबस्ती बोर्ड की संपत्तियों का भी सर्वे करें. ตั้งเป้าหมาย इसके आगे ओवैसी ने कहा कि मैं कह रहा था कि मदरसों के सर्वे के पीछे साजिश है. ลงชื่อเข้าใช้ अब यह खुलकर सामने आ रहा है. อเมริกา กระทู้ सरकार अनुच्छेद 300 (संपत्ति का अधिकार) का उल्लंघन करही है.

यह भी पढ़ें- अध्यक्ष बनने के बाद CM का पद छोड़ने के मूड में नहीं हैं गहलोत, कही यह बड़ी बात

ओवैसीाीसंपतवकपकह, कह, कह, कह, कह, कह, कह, कह यूपी सरकार वक्फ संपत्ति को निशाना बना रही है और उसे छीनने की कोशिश कर रही है इसतरह का लक्षित सर्वेक्षण बिल्कुल गलत है. หยุด हम इसकी निंदा करते हैं. यह सरकार सुनियोजित तरीके से मुसलमानों को निशाना बना रही है






คำศัพท์

เผยแพร่ครั้งแรก : 21 ก.ย. 2565, 07:10:17 น.



ทั้งหมดล่าสุด ข่าวอินเดียดาวน์โหลด News Nation Android และ iOS แอพมือถือ




Crd